ये लो आ गई दुनिया की पहली रोबोट जो हिंदी,भोजपुरी,अंग्रेजी में बात कर सकती है

 रोबोट क्या है और मानव जीवन मे इसका क्या उपयोग है




रोबोट एक प्रकार की मसीन है जो प्रोग्रामिंग से लैस होती है और दिए गए कमांड को समझ कर काम करती है फिर आप चाहे आप उसे जो कमांड दें या आसान भाषा में कहें तो आप उससे कोई भी काम करवा सकते हैं।

इस ह्यूमन लेडी रोबोट का नाम क्या है

दुनिया की ये लेडी रोबोट दूसरी रोबोट पहली बनी है सऊदी अरब में जिसका नाम सोफिया है और इस रोबोट का नाम है रेश्मी 


कौन है! बनाने वाला इस ह्यूमन लेडी रोबोट को बनाने वाला

इस लेडी ह्यूमन रोबोट को बनाने का श्रेय रांची के रंजीत श्रीवास्तव को जाता है और हाँ आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि रंजीत कोई साइंटिस्ट नही हैं बस MBA ग्रैजुवेट हैं ,रंजीत ने बताया कि बिना किसी लेबोरेट्री के रेश्मी को अपने घर मे ही बना लिया रेश्मी को बनाने का खयाल तब उनके मन मे आया जब 2009 में रजनीकांत की मूवी रोबोट आयी थी ।
दुनिया की सबसे फास्टेस्ट रोबोट को बनाने में लगभग दो साल लग गए रंजीत श्रीवास्तव ये दावा करते है कि ये रोबोट दुनिया की सबसे फास्टेस्ट रोबोट है।


रेश्मी की खूबियां   

रेश्मी - भावनाओं को भी समझती हैं , भगवान पर विश्वास भी है रेश्मी को और रेश्मी अंग्रेजी, हिंदी,भोजपुरी और मराठी जैसी भाँषाओ को समझती और बोलती भी है इस रोबोट से कोई भी सवाल पूँछने पर एकदम सही सही जवाब देती है 

अधिक जानने के लिए यह वीडियो देखें.....clik here

क्या ये ह्यूमन रोबोट  ISRO के मंगल मिशन में काम करेगी 

जी हां , चंद्रयान के बाद अब मंगल मिशन की तैयारी चल रही है भारत रेश्मी को मंगल ग्रह पर उतारने के लिए सोच रहा है इससे रांची के नाम भी मंगल मिशन में जुड़ जाएगा ,इसी संभावना तलासने ISRO के वैज्ञानिक तीरथदास और रघु ने रांची जाकर रेश्मी के बुद्धिमत्ता को देखा,
अब रोवर की जगह रोबोट को मंगल पर भेज कर एक बार मे ही सारी जानकारी ले सकते है जैसे वहाँ का मौसम कैसा है वहाँ के पहाड़ के बारे में और वहां पाये जाने वाली धातुएं एवं तापमान सारी जानकारी रेश्मी ह्यूमन रोबोट देगी जिससे एक ही मिशन सारी जानकारी मिल जाएगी फिर ऐसा करने वाला भारत पहला देश बन जायेगा।

Post a Comment

0 Comments